किसी भी विषय पर आर्टिकल लिखे | Article on any topic

किसी भी विषय पर आर्टिकल लिखे | Write an article on any topic like an expert

अगर आप एक ब्लॉगर हो तो आपको पता ही होगा की सबसे अलग और यूनिक आर्टिकल लिखना बोहत ही कठीण है। और अगर कोई ऐसा टॉपिक हो जिस पे आपको उतनी जानकारी नहीं हो, तो परेशानी और भी बढ़ जाती है।

इस लेख में मैं आपको कुछ तरीके बताने वाला हूँ जिससे आप कोई भी विषय पर एक अच्छा और लम्बा चौड़ा आर्टिकल लिख पाओगे।

Article on any topic in hindi mein likhne ke 2 tareeke hai. Doosara tareeka sabse asarkarak aur mera pasandeeda bhi hai, aur isme bohat kam waqt lagta hai.

Table of Contents

कोई भी विषय पर आर्टिकल लिखे | Article on any topic in hindi

यह काम करने के २ तरीके है।

  1. फ्रीलान्स कंटेंट राइटर (Freelance Content Writer)
    • यह सबसे आसान है। इसमें आपकी न तो मेहनत लगती है और न ही आपका वक़्त लगता है। हा, इसके लिए पैसे चाहिए।
    • अगर आपके पास पैसे है और अगर आप ऐसा ही कोई आसान सा तरीका खोज रहे थे, तो आपको इस लेख को आगे पढ़ने की ज़रुरत नहीं है। आप यही से Fiverr पे जा सकते हो।
    • इसका नुकसान यह है की आर्टिकल की क्वालिटी पे आपका कण्ट्रोल नहीं रहेगा। जो वक़्त आप आर्टिकल लिखने में बचा लोगे, हो सकता है की उससे कई गुना ज़्यादा वक़्त आपका क्वालिटी चेक करने में लग जायेगा।
    • दूसरा नुकसान यह है की लेखक या फ्रीलान्स लेखक ज़्यादातर अपने रेफरेन्सेस या सोर्सेज नहीं बताते है। निजी तौर पे इसी कारणवश मैंने फ्रीलान्स आर्टिकल राइटर से काम नहीं लेने का मन बनाया इस ब्लॉग के लिए।
    • कॉपीराइट का स्ट्राइक लगने का खतरा हमेशा बना रहेगा।
  2. किसी भी विषय पर खुद का कंटेंट लिखना (Article writing on any topic)
    • यह बात नयी नहीं है की हमे ओरिजिनल कंटेंट लिखना चाहिए। पर मैं आपको जो तरीका बतानेवाला हूँ, वो नया है।
    • वैसे तो यह तकनीक आसान है, पर अगर आपको कोई भी चीज़ समाज में न आये, तो निचे कमैंट्स में भी आप मुझे पूछ सकते हो। अगर आप कोई यूनिक टपकी पे लिख रहे हो और अगर आप को लगता है की मैं आपकी सहायता कर सकता हूँ, तो आप मुझे Contact पेज पर जाके कांटेक्ट फॉर्म भर दीजिये।

चलिए अब शुरू करते है।

कोई भी विषय पर एक अच्छा आर्टिकल कैसे लिखे | How to write an article on any topic – The unique approach

सिर्फ अभी के लिए मान लो की आपके पास एक ब्लॉग है जिसपे आप एक न्यूज़ वेबसाइट के जैसा कंटेंट लिखते हो।

अब मान लो की चुनाव आ रहा है और राजनीती के बारे में आपको ज़यादा कुछ पता नहीं है।

आपका मन कर रहा है की आप ‘क्या राहुल गाँधी प्रधानमंत्री बन सकते है?’ इस विषय पर एक अच्छा सा लेख लिखे।

चरण १: सभी मुद्दों की एक सूचि बनाये | Idea list for article on any topic in hindi

सबसे पहले आप अपने हिसाब से उन सभी मुद्दों की एक सूचि या लिस्ट बनाओ की जिसको आप अपने आर्टिकल में लिख सको।

फिर उन सभी मुद्दों में अपने हिसाब से जो भी आप को लिखना है वो बोहत ही मोटे मोटे तौर पे लिखो।

आपको जितना पता है उतना लिखो। अगर आप थोड़ा बोहत पढ़के या थोड़ा ज्ञान बटौरके कुछ लिखना है तो लिख लो। मैंने निचे थोड़ा उदाहरण देकर लिखा है।

उदहारण का विषय: पर्यावरण को कैसे बचाये

Article on any topic in hindi
Article on any topic in hindi

अब देखिए, मुझे इस विषय पे उतना नहीं पता है। मुझे जितना पता है वो मैंने मोटे मोटे तौर पे लिख दिया।

  1. कपडे का थैला
    • प्लास्टिक की थैली का इस्तेमाल कम करना।
    • मेरा दोस्त राहुल की जिसने पर्यावरण विज्ञान पे पढाई की है, उससे बात करनी है।
    • (??)और भी किसी से पूछना पड़ेगा।
  2. लोकल दुकान से सामान खरीदना
    • बरेली में चाचाजी की दुकान है। उन्ही से पूछना होगा की अगर कोई उनकी दूकान से सामान खरीदता है तो उससे पर्यावरण को कैसे लाभ होता है।
    • इकोनॉमिक्स की टीचर से भी बात करनी पड़ेगी। क्योंकि ब्यापार से जुडी कुछ बाते है, तो उनकी राय लेनी चाहिए।
  3. घर का कचरा
    • बचपन में विज्ञान के शिक्षक ने पढ़ाया था की घर के कचरे को फ़र्टिलाइज़र बना कर इस्तेमाल कर सकते है। क्या यह मुमकिन है? अगर है तो कैसे?
  4. पानी का १००% उपयोग
    • पानी को बर्बाद होने से कैसे बचाये?
    • अगर ऐसा हो पाया तो और एक फायदा है की पानी का बिल कम आएगा।
    • सभी महिलाये बचत करने में बोहत ही होशियार होती है। इसी लिए महिला सदस्यों की राय अवश्य ही ली जाएगी।
  5. पुरानी चीज़ का दोबारा इस्तेमाल
    • मम्मी और पापा जल्दी नए कपडे नहीं लेते है। और पापा की स्कूटर तो तकरीबन १६ साल पुरानी है। इसके पीछे का कारण जानना होगा।
    • क्या कपडे का दुबारा इस्तेमाल करके पर्यावरण को कोई लाभ या नुकसान होता है।

उम्मीद करता हूँ की आपको पहले चरण में बताई गयी सारी बाते समाज में आ गयी होगी।

चरण २: किसी भी विषय पर लेख के लिए सामग्री एकत्र करना | Gathering content for an article on any topic

ऊपर वाली प्रक्रिया करके आपको यह तो पता चल गया की आपको किसे क्या पूछना है। तो अब उन लोगो से पूछ के जितने सवाल और सवालो के जवाब मिल सकते है उतने लिख लो।

हमारा काम अभी आधा ही हुआ है।

अब हमारे भारतीय परिवार में लोगो की एक बोहत ही अच्छे आदत होती है और वो यह की सभी लोग कम से कम एक वक़्त का खाना पुरे परिवार के साथ बैठकर कहते है। यह सही मौका है। १ – २ तड़कते भड़कते सवाल पूछ लीजिये। हाँ, अपने मोबाइल में ऑडियो रिकॉर्डिंग करना न भूले। इसमें आपको बोहत सारी अतरंगी राय मिल सकते है जिसे अगर आपने अपने आर्टिकल में लिख लिया, तो बोहत ही यूनिक हो जायेगा।

लोगो से पूछिए की उनकी राय किस बुनियाद पे बनी है। अगर आप उनसे किसी विषय पर सहमत नहीं है तो कृपया करके आप भी चर्चा में न कूद पड़े। ऐसी परिस्थिति उत्पन्न हो सकती है की सामने वाली व्यक्ति के विचार आपसे एकदम विरोधाभासी हो।

दुसरो को अपने तरह सोचने के लिए कहना या फिर बाकि लोगो पर अपनी राय थोपना आपका काम नहीं है। याद रखिये की आप एक ब्लॉगर है और अपने आर्टिकल के लिए मसाला ढूंढने के लिए उनसे बात कर रहे हो।

अगर कभी असहमति की परिस्थिति उत्पन्न होती है तो अपनी राय को एलान ए बयान करने की वजह अपने विचारो कोक सवालो के रूप में पूछिए। सामने वाले व्यक्ति को आपसे बात करने में दिलचस्पी होगी। वो खुलके आपसे बात करेगा।

अगर आपके घर में कोई बुज़ुर्ग है तो उनसे ज़रूर बात कीजिये। वो आपको एक लम्बे समय में हुए बदलाव की झलकी देंगे जो आपको शायद ही कोई दे पायेगा।

चरण ३: प्रतिस्पर्धियों का अवलोकन करे | Analyze the competition to write an article on any topic in english

बाकि ब्लोग्गर्स को देखिये की वो क्या कर रहे है। अगर ज़रुरत लगे तो यूट्यूबरस का भी अवलोकन करे। देखिये की वो लोग अपने कंटेंट में क्या ड़ाल रहे है और ऐसे कौन से मुद्दे है जो वो नहीं बता रहे है।

अगर सबके जैसा ही लिखोगे तो भेङ की भीड़ में खो जाओगे। अगर बोहत ही ज़्यादा अलग लिख दिया तो मास ऑडियंस (Mass Audience) को टारगेट नहीं कर पाओगे। बैलेंस बनाके चलो।

याद रखिये की आपका टॉपिक या कीवर्ड आम हो सकता है पर कंटेंट नहीं, वो तो खास ही होना चाहिए।

कुछ मेरे विचार

मुझे पता है की आप यह सोच रहे हो की यह बोहत ही लम्बी प्रक्रिया है। भला एक आर्टिकल के लिए तो यह बोहत मेहनत हो जायगे।

प्रक्रिया लम्बी ज़रूर है, पर इससे आप १ से ज़्यादा ही आर्टिकल लिख पाओगे।

सबसे पहला वाला तो आप जो भी टॉपिक है उसपे लिखोगे। और दूसरा लोगो ने आपको जो बताया और आपने उस जानकारी का विश्लेषण कैसे किया और कौन से मापदंड से किया, उसपे आप अलग से एक आर्टिकल लिख सकते हो। अगर आपका यूट्यूब चैनल है तो मेरी राय यह होगी की इसपे आप एक वीडियो बनाओ।

इस जानकारी के बाद आप कीवर्ड रिसर्च भी तो करोगे। हो सकता है की कीवर्ड्स खोजते खोजते आपको कोई ऐसा कीवर्ड मिल जाये की आप इसी जानकारी का इस्तेमाल करके और एक आर्टिकल लिख लो।

Dhanyawad.

Spread the love

Leave a Comment